अदरक के फायदे और नुकसान

क्या आप जानते हैं की अदरक के फायदे और नुकसान क्या-क्या हैं? अगर नहीं तो आज इस लेख से आपको अदरक के गुण और उससे होने वाले नुक्सान के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो जाएगी.

प्राचीन काल से पुरे विश्व में अदरक को मसाले के रूप में उपयोग किया जा रहा है. भारत के हर घर में बहुत सी खाने की चीजों में इसके मनमोहक स्वाद के लिए इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन क्या आपको ज्ञात है की अदरक के फायदे और नुकसान भी बहुत सारे हैं.

अदरक के बहुत सारे लाभ हैं जिसके लिए इस मसाले को दवाओं का गोदाम भी माना जाता है. इसमें एंटी-फंगल, एंटीसेप्टिक, एंटी-बायोटिक, एंटी-वायरल और एंटी-इंफ्लेमेटरी के गुण हैं जो हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होते हैं.

अदरक के औषधीय गुण हमारे स्वास्थ्य को विभिन्न प्रकार से लाभ प्रदान करते हैं जैसे हड्डियों को मजबूती प्रदान करते हैं, प्रतीक्षा प्रणाली (immune system) को ठीक कर देते हैं, भूख को बढ़ावा देते हैं, शरीर में होने वाले अलग अलग प्रकार के cancer को उत्पन होने से रोकते है, पाचन क्रिया को ठीक कर देते हैं, जोड़ों के दर्द को कम कर देते हैं, पेट की समस्या जैसे गैस, कब्ज को दूर कर देते हैं, सर्दी जुखाम से राहत दिलाते हैं, माहवारी से जुडी समस्या को भी ख़तम कर देते हैं.

अदरक का उपयोग करने के लिए आप इसे ताज़े, सूखे, पाउडर और तेल या जूस के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं. अदरक का अनोखा खुशबू और स्वाद इसमें मौजूद gingerol नामक पदार्थ के वजह से आते हैं. Gingerol अदरक का महत्वपूर्ण बायोएक्टिव कंपाउंड है जिससे इसका इस्तेमाल दवाइयों के रूप में किया जाता है. अदरक के बारे में और भी अधिक जानकारी पाने के लिए आप ये लेख अदरक के फायदे और नुकसान आगे जरुर पढ़ें.

अनुक्रम

अदरक के फायदे और नुकसान

Adrak ke Fayde aur Nuksan Hindi

अदरक का उपयोग केवल भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए ही नहीं बल्कि स्वास्थ्य को सुधारने के लिए भी किया जाता है. यहाँ पर बताये जाने वाले अदरक की जानकारी के उपयोग से आपको जीवन में बहुत से बदलाव देखने को मिलेंगे.

1. अदरक के फायदे पाचन क्रिया को सुधारने के लिए

अदरक के सेवन करने से पाचन क्रिया में सुधार लाया जा सकता है. हम जो भी भोजन ग्रहण करते हैं अदरक उस खाने में से जरुरी पोषण और मिनरल तत्व को बाहार निकाल कर हमें उर्जा प्रदान करता है. इसके साथ साथ भोजन को पचाने के क्रिया में भी सहायता करता है जिसके कारण पाचन क्रिया तेज़ी से काम करने लगती है. इसके अलावा अदरक ख़राब पेट को शांत करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है. जब भी आपको अपच, पेट का फूलना, मतली लगना या पेट में सुजन जैसी कोई भी समस्या हो तो आप अदरक का इस्तेमाल इनके इलाज के लिए कर सकते हैं.

पाचन क्रिया को सुधारने के लिए आपको भोजन करने के तुरंत बाद ही अदरक का सेवन करना है. इसके लिए आप चाहे हैं तो अदरक के टुकड़े को मुह में लेकर धीरे धीरे चबा कर खा सकते हैं या फिर अदरक का जूस निकाल कर इसका उपयोग कर सकते हैं.

2. अदरक खाने के फायदे हैं मतली (Nausea) के उपचार के लिए

कच्चा अदरक चबाने या अदरक की चाय के फायदे मतली के उपचार के लिए प्रभावी होते हैं. गर्भवती महिलाये और cancer से पीड़ित लोगों को रोजाना मतली और उलटी की समस्या होती है इस परेशानी को दूर करने के लिए अदरक का उपयोग किया जाता है. अदरक गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है वो इनका सेवन कर अपने दैनिक समस्या से छुटकारा पा सकती हैं.

गर्भावस्था, chemotherapy, सर्जरी या सफ़र से सम्बंधित मतली से छुटकारा पाने के लिए अदरक और शहद का साथ में उपयोग किया जाता है. इसके लिए आप अदरक को बारीक़ से काट कर शहद के साथ सेवन कर सकते हैं.

3. अदरक के फायदे हैं सर्दी और फ्लू को रोकने में सहायक

सर्दी के मौसम में अदरक की चाय से शरीर को गर्माहट मिलती है. इसलिए सर्दी, जुखाम और फ्लू जैसी बिमारियों से लड़ने के लिए अदरक का उपयोग किया जाता है. अदरक शरीर में गर्मी को पैदा करती है और पसीने को उत्तेजित कर देती है जिससे सर्दी, जुखाम और हलके बुखार को ठीक किया जा सकता है. अदरक प्रतीक्षा प्रणाली को शक्तिशाली बना देता है जिससे हमारा शरीर सर्दी, जुखाम और फ्लू जैसी बिमारियों से लड़ने के लिए तैयार हो जाता है.

अदरक की चाय से सर्दी जुखाम और फ्लू को ठीक किया जाता है. अदरक की चाय घर में बनाने के लिए आपको 20-40 ग्राम ताज़े अदरक के टुकड़े को लेना है और एक कप गरम पानी में डाल कर उसे 5 मिनिट तक खौलने के लिए छोड़ देना है उसके बाद उसमे निम्बू और शहद के 2-4 बूँद को डाल लेने से उसका स्वाद और भी बढ़ जायेगा. अब आप इस चाय को पि सकते हैं. इससे आपको शर्दी से हुए बलगम वाली खाँसी से भी छुटकारा मिल जायेगा.

4. कच्चा अदरक खाने के फायदे दिलाये मासिक धर्मं के पीड़ा से राहत

महिलायों को अक्सर मासिक धर्म के दौरान सर्द दर्द, शरीर में ऐठन और भयंकर पीड़ा से गुजरना पड़ता है. ऐसे में अंग्रेजी दावा खाना सेहत के लिए बिलकुल भी सही नहीं होता. इसका इलाज घरेलु उपचारों से किया जा सकता है और अदरक एक शक्तिशाली प्राकृतिक दर्द निवारक है जो सरीर के दर्द और ऐंठन को दूर करने में सक्षम है. मासिक धर्म के समय कच्चे अदरक या अदरक का पानी पिने से आपको शरीर में हो रहे सभी तरह के दर्द से राहत मिल सकता है.

5. अदरक के रस के फायदे बचाए शरीर में cancer होने से

अदरक में cancer की बीमारी से शरीर को बचाए रखने का गुण होता है. यह cancer पैदा करने वाले cells को ख़तम कर देता है. अदरक में मौजूद शक्तिशाली gingerol कंपाउंड के कारण शरीर से cancer के खतरे को ख़तम किया जा सकता है. एक अध्ययन में पाया गया है की अदरक ने ना सिर्फ ovary cancer की कोशिकाओं को नष्ट किया बल्कि ये उन कोशिकाओं को बढ़ने और बनने से भी रोक देता है. ये ovary cancer को रोकने के साथ साथ prostate, फेफड़े, लीवर, स्तन और pancreatic cancer को भी होने से रोकता है. हैरान करने वाली बात तो ये है की एक cancer रोधी दावा बीटा-एलिमेन अदरक से बनायीं जाती है.

6. अदरक के फायदे होते हैं ह्रदय रोग के लिये लाभकारी

अदरक का इस्तेमाल सालों से ह्रदय रोगों के उपचार के लिए किया जा रहा है. अदरक के नियमित प्रयोग से हमारे cholestrol के स्तर को भी कम किया जा सकता है, इससे रक्त का बहाव ठीक तरह से होता है और इसके इस्तेमाल से खून के थक्के भी नहीं बनते, अदरक से blood pressure को भी नियंत्रिक किया जा सकता है. ये सभी चीजें हार्ट अटैक और स्ट्रोक के जोखिम को कम करते हैं.

7. अदरक खाने के फायदे से मिलते हैं गठिया के दर्द से राहत

अदरक में प्रभावशाली anti-inflammatory गुण होते हैं जो गठिया के रोग को ठीक करने में सहायता करता है. गठिया में होने वाले जोड़ो के दर्द और सुजन को कम करने में अदरक मदद करता है. एक अध्ययन में ये पाया गया है की जो लोग अदरक का सेवन करते हैं उन्हें जोड़ो में कम दर्द रहता है क्यूंकि अदरक में anti-oxidants मौजूद रहता है जो खून की गंदगी को साफ़ कर शरीर से बहार निकाल देता है.

Arthritis और thyroid जैसी समस्या से हो रहे पीड़ा को कम करने के लिए आप गर्म अदरक के पेस्ट को हल्दी के साथ एक दिन में दो बार प्रभावित जगह पर लगायें. इसके अलावा आप कच्चे या पक्के अदरक का सेवन प्रतिदिन करना शुरू कर दें.

8. बालों के लिए अदरक का लाभ

प्रतिदिन नियमित रूप से अदरक के जूस का सेवन करने से बाल लम्बे और मजबूत होते हैं. बालों में रुसी और scalp में इन्फेक्शन की वजह से बालों के जड़ कमजोर हो जाते हैं. अदरक में मौजूद एंटी-सेप्टिक गुण रुसी और बालों की तमाम समस्याओं को कम करने में मददगार होते हैं. अदरक का रस बालों की कंडीशनिंग करता है और बालों के जडो में रक्त क बहाव को बढ़ावा देता है जिससे बालों का झड़ना कम हो जाता है.

अदरक के बालों में प्रयोग कैसे करें?
अदरक के रस में प्याज का रस को मिलाकर scalp पर लगाने से बाल लम्बे, मोटे और मजबूत बनते हैं. इस लेप को सर में अच्छे से लगा लें उसके बाद उसे आधे घंटे के लिए छोड़ दें फिर शैम्पू से बाल को धो लें.

अगर आपके बाल dry हैं तो आप अदरक के रस में जैतून का तेल मिलकर आपने बालों में लगा सकते हैं जिससे आपके बाल मुलायम और चमकीले हो जायेंगे.

अदरक का इस्तेमाल बालों पर आप एक और तरह से भी कर सकते हैं जिससे आपके बाल लम्बे किये जा सकते हैं. उस लेप को बनाने के लिए आपको चाहिये 4 चम्मच नारियल का तेल, 3 बारीक़ कटी हुयी लहसुन की कलियाँ, 6 चम्मच नारियल का दूध, 2 चम्मच शहद और एक चम्मच अदरक का रस. इन सब को अच्छे से मिला लेना है और अपने scalp पर लगा कर आधे घंटे के लिए छोड़ देना है.

9. अदरक का रस है प्राकृतिक दर्द निवारक

ताजे अदरक के रस में एंटी-inflammatory गुण पाये जाते हैं जो प्राकृतिक रूप से दर्द को ठीक करने का काम करता है. यह बिना किसी दुष्प्रभाव के दर्दनिवारक दावा की तरह काम करता है. कमर के दर्द के इलाज के लिए एक चम्मच अदरक के रस को जैतून के तेल में मिलाकर प्रभावित जगह पर मालिश करने पर दर्द गायब हो जाता है. अदरक का इस्तेमाल दांत के दर्द और सर दर को ठीक करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है.

दांत के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप अदरक के छोटे से टुकड़े को दर्द हो रहे दांत पर दबा कर रखें और अदरक के रस को दांतों में मिलने दें, कुछ देर के बाद आपका दांत का दर्द गायब हो जायेगा. और सर के दर्द से राहत पाने के लिए दो चम्मच अदरक के रस में शहद मीलाकर कर सेवन करने पर सर का दर्द भी ठीक हो जाता है. इसके अलावा आप अदरक की चाय भी पी सकते हैं.

10. अदरक खाने के फायदे दूर कर सकते हैं जिद्दी मुहांसे

रोजाना अदरक का रस का सेवन करने पर मुहांसे कम करने में मदद मिलती है. जिनकी त्वचा oily होती है उन्हें अक्सर मुहांसों की समस्या को झेलना पड़ता है. लेकिन अगर आप अदरक का उपयोग करते हैं तो मुहांसों से हमेसा के लिए छुटकारा पाया जा सकता है. अदरक में vitamin c भरपूर मात्रा में पाये जाते हैं तो त्वचा को अन्दर से साफ़ करने में मदद करता है और मुहांसों को उत्पन्न होने से रोकता है.

अदरक के नुकसान

किसी भी चीज का उपयोग अधिक करने पर हमें उसके फायदे के होने बजाये नुकसान हो सकते हैं ठीक उसी तरह अदरक से भी हमें तभी नुकसान हो सकते हैं जब हम उनका प्रयोग ज्यादा मात्रा में करेंगे. तो चलिए जानते हैं की हमे अदरक से क्या क्या नुकसान हो सकते हैं.

1. गर्भवती महिलयों के लिए अदरक है असुरक्षित

हालाँकि अदरक के उपयोग से गर्भवती महिलायों को मतली की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है लेकिन इसके अत्यधिक उपयोग से गर्भपात होने का खतरा भी बढ़ जाता है.

2. अदरक के नुकसान मासिक धर्म के दौरान बढ़ा सकते हैं रक्त का बहाव

अदरक की खुराक बड़ी मात्रा पर लेने से कई महिलयों के मासिक धर्म में ज्यादा खून के बहाव को पाया गया है. अदरक खून को पतला कर देता है जिसके कारण इसके अत्यधिक उपयोग से रक्त का बहाव बढ़ जाता है.

3. अदरक के नुकसान बढ़ा सकते हैं मधुमेह की समस्या

अदरक का इस्तेमाल मधुमेह के इलाज के लिए किया जाता है परन्तु मधुमेह के रोगी दवाई लेते हुए अदरक का भी सेवन करते हैं तो उनका blood sugar level तेज़ी से कम हो जाने का खतरा बढ़ जाता है. इसलिए अदरक को हमेसा सिमित मात्रा में खाना चाहिये.

4. अदरक से हो सकते हैं पेट की समस्या

अदरक का सेवन खाली पेट में करने पर पेट से जुडी कई समस्या उत्पन्न हो सकती है जैसे दस्त, गैस, पेट में सुजन, पेट दर्द इत्यादि. इसलिए खाली पेट अदरक का उपयोग ना करें.

5. अदरक की चाय के नुकसान

अगर दिन भर में पांच कप से ज्यादा अदरक की चाय का सेवन किया जाये तो यह सर दर्द, उलटी, दस्त, सीने में जलन, मुंह में जलन और अनिंद्रा जैसी समस्याओं को पैदा कर सकता है.

समापन शब्द

अदरक के औषधीय गुण से हमें अनगिनत स्वास्थ्य समस्याओं से मुक्ति मिल सकती है वहीँ अगर इसका प्रबल उपयोग किया जाए तो अदरक नुकसानदेह भी हो सकता है. अगर आप प्राकृतिक रूप से अपने सेहत का ख्याल रखना चाहते हैं तो अदरक का उपयोग उतना ही करें जितना आपके सेहत के लिए लाभदायक साबित हो. आशा करती हूँ की आपको इस लेख अदरक के फायदे और नुकसान से अदरक के बारे में जानकारी प्राप्त हुयी होगी. अगर आपको ये लेख अच्छा लगा तो हमें अपनी राय जरुर बताएं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here